Hindi Kavita

बहन पर हिंदी कविता – Poem On Sister in Hindi – बहन की कविताएँ

Poem On Sister in Hindi – बहन का एक ऐसा रिश्ता होता है जो कभी भी प्रत्यक्ष नहीं होता है, इस रिश्ते को वही समझ सकता है जो अपनी बहन की कमी महसूस कर रहा हो, भाई बहन बचपन से एक दुसरे के साथ रहते है एक दुसरे से लड़ते है झगड़ते है और फिर एक हो जाते है यह बहुत ही नटखट और चटपटा रिस्ता है | अगर आपको भी अपनी बहन की याद आ रही है और उसका जाने का गम महसूस हो रहा है और उसकी याद में कविताएँ देख रहे है तो आप सही जगह है यहाँ से आप छोटी बहन पर कविता, बहन की शादी पर कविता, Poem On Younger Sister in Hindi, मेरी छोटी बहन पर कविता आदि पा सकते है |

Poem On Sister in Hindi

परियों से प्यारी मेरी बहना हो,
भैया को स्नेह करने वाली बहना हो ||बड़ी हो तो मम्मी पापा की फटकार से बचाने वाली,
छोटी हो तो हमारे पीठ पीछे छिपने वाली बहिना हो ||

बड़ी हो तो चुपके से भाई के पॉकेट मे रूपये रखने वाली,
छोटी हो तो चुपके से रूपये निकाल लेने वाली बहिना हो ||

छोटी हो या बड़ी हर बात पर झगड़ने वाली,
परियों से प्यारी मेरी छोटी प्यारी बहिना हो ||

बड़ी हो तो गलती पर हमारे कान खीचने वाली,
छोटी हो तुम अपनी गलती पर सोर्री भैया कहने वाली ||

अपनें से ज्यादा भाई से प्यार करने वाली,
परियों से प्यारी मेरी प्यारी बहिना हो ||

Poem On Sister in Hindi

Read More :

बड़ी बहन पर कविता

राखी बहनो का त्योहार,
युग-युग और घटनों के प्यार,
भाई राखो इसे सँवार,
बहनो की रक्षा का है तुम पर भार !बहनें करतीं हर वर्ष याद,
सुबे से लेकर आधी रात।
पूर्णनिमा के पुन्यों को ले धागों में,
भाई दे आशीर्वाद,
जुग-जुग जियो, सुहागन रहो।
करो ईश्वर और पति भक्ति,
तुझे मिले लक्ष्मी की शक्ति !!

Short Poem On Sister in Hindi

कहतीं है
‘एक बात कह रही हूँ
घबराना मत
घर में तो सब ठीक है
पर हाँ किसी की तार, चिठ्ठी, टेलीफोन पा कर
डरना नहीं
एक उम्र के बाद तो
जाना ही है सबको
कोई पहले भी चला जाए
तो भी डरना नहीं
हौसला रखना
हाँ हो सके तो कुछ दिन
घर आ जाना
माँ कुछ उदास है बस’प्रत्युतर में पूछता हूँ
‘माँ के नहीं रहने पर
तुम तो रहोगी न
मेरे पास !!

बहन पर बेहतरीन कविताएँ

मासूम सा चेहरा , इंसानियत की मूरत है।
भोली और प्यारी सी, बहुत ही खूबसूरत है।।

तन उसका कोमल,और मन उसका सुन्दर है।
आँखों में प्यार झलकता है, दिल में उसके रब बसता है।।

कोई और नहीं वो प्यारी सी, मेरी छोटी बहना है।
खुशियों का वो सागर है, प्यार का वो दरिया है।।

छोटा हो या बड़ा हो कोई,हर इंसान के लिए।
उसके दिल में प्यार ही प्यार बरसता है।।

उसका हर शब्द दुआ बनकर निकलता ।
कोई और नहीं वो प्यारी सी,मेरी छोटी बहना है।।

वो प्यारा सा फूल है घर-फुलवारी का।
महकता उससे घर का आँगन है।।

चेहरा उसका जब मैं देखूं,मन प्रफुल्लित हो जाता है।
खुदा से वरदान के रूप में मिला मुझे अनमोल तोहफा है।।

कोई और नहीं वो प्यारी सी, मेरी छोटी बहना है।
कोई और नहीं वो प्यारी सी मेरी छोटी बहना है

बहन की याद में कविता

बहन पर हिंदी कविता – Poem On Sister in Hindi – बहन की कविताएँ, के साथ साथ आप यहाँ से आप बहन के जन्मदिन की शुभकामनाएं सन्देश बड़ी बहन के जन्मदिन पर कविता, छोटी बहन पर कविता, बहन की शादी पर शायरी Poem On Younger Sister in Hindi, मेरी छोटी बहन पर कविता, Happy Birthday Poem in Hindi  सिस्टर के लिए कविता आदि का संग्रह पा सकते है | जिन्हे आप व्हाट्सप्प फेसबुक पर शेयर करके अपने इमोशंस को साझा कर सकते है |

Poem On Sister in Hindi

मेरी बहन मुझे बहुत याद आती है ।
न जाने कहा खो गयी मेरी प्यारी बहना ।।बस अब कुछ खट्टी मीठी सी यादी बाकि है ।
मेरी बहन मुझे बहुत याद आती है ।।

वो बचपन की झगड़े बहुत याद आते है ।
Woh बहन का प्यार बहुत याद आता है ।।

वो बचपन की प्यारी बाते ।
मेरी बहन मुझे बहुत याद आती है ।।

घर की खुशियों की पोटली थी वो ।
न जाने कहा खो गयी मेरी प्यारी बहना ।।

हर सुख दुःख में मेरे साथ देने वाली ।
मेरी बहन मुझे बहुत याद आती है ।।

अपनी हर खुशियां मेरे साथ बाटने वाली ।
हर दुःख को अकेले सहने वाली ।।

न जाने कहा खो गयी मेरी प्यारी बहना ।
मेरी बहन मुझे बहुत याद आती है ।।

Sister Poem in Hindi

भाई की शादी में ये फुर्र-फुर्र
नाचती बहनें,
जैसे सारी कायनात फूलों से लद गई होहवा में तैर रही हैं हँसी की अनगिनत लड़ियाँ
केशर की क्यारियाँ महक रही हैंयाद आ गई वह बहन
जो होती तो सारी दिशाओं को नचाती अपने साथ

जिसका पता नहीं चला
गंगा समेत सारी गहराईयाँ छानने के बाद भी…

और बहन की शादी में यह भाई
भीतर-भीतर पुलकता
मगर मेंड़ पर संभलता, चलता-सा भी

कुछ-कुछ निर्भार
मगर बगल का फूल तोड़े जाने के बाद पत्ते-सा
श्रीहीन…।

बहन के जन्मदिन पर कविता

तेरी हर बात हमेशा अच्छी लगती है ।
तेरे जैसा दूजा होगा नही कोई ।।तू मेरी एक लोती आस है ।
मेरी शरारतो की साथी है तू ।।

अपनी हर बात मनवाती है तू,
कही अपनी बात मनवाना भूल तो नही जाएगी ।
और मेरी प्यारी बहना तू बहुत याद आएगी ।।

तू शायद जानती नही में बेहद प्यार करता हु ।
तू कही भूल ना जाए बस यही दुआ करता हू ।।

दुआ है मेरी सारे जहाँ की खुशियाँ तुझे नसीब हो ।
आगे से हमारा ये रिश्ता और भी करीब हो ।।

मेरी गलतियों को माफ़ करना ।
हो सके तो मुझसे रोज बात करना ।।

मुझे मालूम है तू भी बहुत प्यार करती है ।
इसलिए मेरी एक आवाज़ पर हाँ भैया कह के पुकारती हो ।।

अपनी मुस्कान को हमेशा बनाए रखना ।
हर मुसीबत में गले लगाए रखना ।।

अब तक मेरे लिए बहुत कुछ किया है तूने ।
कहीं अब मेरी माँ बनना भूल तो ना जाएगी तू ।।

और मेरी प्यारी बहना तू मुझे कही भूल तो नही जाएगी ।
और मेरी प्यारी बहना तू बहुत याद आएगी ।।

बहन पर लोकप्रिय कविता

बहन अक्सर बड़ी होती है, उम्र में भले ही छोटी हो।
लेकिन एक बड़ा सा एहसास लिए खड़ी होती है, बहन अक्सर बड़ी होती है।।

जो तुम रूठ जाओ तो मना लेगी, जो कोई उलझन हो तो सुलझा देगी।
हर परेशानी को दूर करदे, ऐसी वो जादू की छड़ी होती है
बहन अक्सर बड़ी होती है।।

हर मुसीबत की वो साथी है, हर दर्द की उसे दवा आती है।
तेरे लिए अपनी मुश्किल भी भुला देगी, तेरी ख़ुशी के लिए जी जान लगा देगी।।

वो एक चुलबुली सी प्यारी परी होती है।
बहन अक्सर बड़ी होती है।।

उसे सिखाया जाता है कि हर चीज़ पर हक़ उसका है भाई से कम।
दुनिया तो कहती ही है पर अपने ही करते हैं उसकी आँखें नम।।

फिर भी वो मुस्कान लिए अपने भाई के साथ खड़ी होती है।
बहन अक्सर बड़ी होती है।।

तेरा हर दर्द उसका अपना है, उसे तो सपने देखने की इजाज़त नहीं।
इसीलिए तेरा सपना ही उसका सपना है, कोई सुने उसकी भी बात।।

कोई पूरी करदे उसकी भी फ़रियाद, बस आँखों में चमक, दिल में उम्मीद लिए होठों को सिये खड़ी होती है,
बहन अक्सर बड़ी होती है।।

बहन अक्सर बड़ी होती है, उम्र में भले ही छोटी हो।
लेकिन एक बड़ा सा एहसास लिए खड़ी होती है,
बहन अक्सर बड़ी होती है।।

यह भी पढ़े : 

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.